ग्लेशियर टूटने से आई तबाही के बाद बचाव कार्य युद्ध स्तर पर जारी

0
13
Rescue by SDRF

उत्तराखंड के चमोली जिले में जोशीमठ के धौली गंगा घाटी में रैणी गांव के ऊपर वाली गली से आज सुबह लगभग 10:30 पर एक ग्लेशियर के टूटने से भयानक आपदा की खबर प्राप्त हुई। ग्लेशियर टूटने से बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। सेना, वायुसेना, एनडीआरएफ, आईटीबीपी और एसडीआरएफ की कई टीमें स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर युद्ध स्तर पर राहत और बचाव आदि के कार्यों में जुटी हैं। राज्य के मुख्‍य सचिव ओम प्रकाश ने एएनआई ने बताया कि इस दुर्घटना में 100-150 लोगों के हताहत होने की आशंका है और अब तक 10 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं। लोगों को निकालने का काम जारी है। जेसीबी मशीनों से मलबा साफ किया जा रहा है।

प्रशासन ने राज्य में हाई अलर्ट जारी किया है और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लोगों से अपील की है वो अफवाहों पर ध्यान ना दें और ना ही सोशल मीडिया पर वायरल हुए पुराने वीडियोज को देखकर भयभीत हों। इसी के साथ ही भारतीय मौसम विभाग ने भी राज्य के मौसम को लेकर राहत की बात कही है

उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने से भारी तबाही हुई है। दो NTPC प्रोजेक्ट को नुकसान है। इस बीच रेस्क्यू में जुटे ITBP के जवानों ने तपोवन की टनल में फंसे लोगों को निकाला। मृत्यु का सामना कर बचकर वापस आए लोग इस दौरान काफी राहत में नजर आए। जैसे ही लोगों को टनल से बाहर निकाल गया उनके चेहरे पर सुकून दिखने लगा।

ग्लेशियर के टूटने से मौसम पर असर नहीं

आईएमडी ने कहा कि ग्लेशियर टूटने की वजह से राज्य के मौसम पर कोई विपरीत असर नहीं होगा और इसलिए किसी को भी परेशान होने की जरूरत नहीं है। हिमखंड के टूटने से राज्य के मौसम पर कोई असर ना होगा। वो अपने सामान्य रूप में ही रहेगा, इसलिए 7-8 फरवरी को ना ही भारी बारिश होने का अनुमान है और ना ही बर्फबारी की आशंका है। हालांकि उत्तराखंड के दूसरे क्षेत्र में हल्की बारिश की संभावना बनी हुई है, जबकि चमोली में नौ और 10 फरवरी को हल्की बरसात हो सकती है।

पीएम मोदी ने कहा है कि दुख की इस घड़ी में पूरा देश उत्तराखंड के लोगों के साथ है और उनके लिए दुआएं कर रहा है, गृहमंत्री अमित शाह ने भी राज्य को विश्वास दिलाया है कि वो हर तरह से राज्य सरकार की मदद को तैयार है, बीजेपी चीफ जेपी नड्डा ने उत्तराखंड के बीजेपी कार्यकर्ताओं को प्रोटोकॉल का पालन करते हुए बचाव कार्य में मदद करने की अपील की, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की उत्तरप्रदेश उत्तराखंड के साथ खड़ा है, और हर प्रकार की सहायता के लिए तैयार है। निचले इलाकों में और आपदा संभावित क्षेत्रों में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

[ad id = ‘11174’]

Leave a Reply