उत्तराखंड १६ जुलाई प्रमुख ख़बरें |

0
64
  • उत्तराखंड पुलिस का ऑपरेशन मर्यादा, धार्मिक स्थल पर शराब-सिगरेट पीने पर खैर नही

उत्तराखंड में भारी संख्या में सैलानी आ रहे हैं. अब राज्य में पर्यटकों का आना तो शुभ संकेत है, लेकिन बीते कुछ दिनों से ऐसे वीडियो भी सामने आए हैं, जहां पर धार्मिक स्थल पर हुड़दंग मचाया जा रहा है. उस हुड़दंग को रोकने के लिए उत्तराखंड पुलिस ने ऑपरेशन मर्यादा शुरू किया है.ऑपरेशन मर्यादा के जरिए अब उन तमाम लोगों को मर्यादा याद दिलाई जाएगी जो धार्मिक स्थल पर शराब पीते हैं, सिगरेट पीते हैं और हुड़दंग मचाते हैं. स्पष्ट कर दिया गया है कि ऐसे लोगों के खिलाफ उत्तराखंड पुलिस सख्त एक्शन लेने जा रही है.

 

 

  • शिव को समर्पित सावन माह आज  से शुरु, पर्वतीय क्षेत्रों में 19 जब कि मैदानी में 26 को होगा पहला सोमवार व्रत

भगवान शिव का पूजन में विशेष महत्व रखने वाला सावन महीनाआज यानी शुक्रवार से शुरू हो गया है।संक्रांति से सावन मानने वाले पर्वतीय क्षेत्रों में इस बार महीने का पहला सोमवार का व्रत 19 जुलाई को होगा, पर्वतीय क्षेत्र केअनुसार महीने में पांच सोमवार व्रत आएंगे। जबकि पूर्णिमा से पूर्णिमा तक सावन का व्रत रखने वाले मैदानी क्षेत्रों में  26 जुलाई से सावन का पहला सोमवार शुरु हो जाएगा, अंतिम व चौथा सोमवार 16 अगस्‍त को होगा।

 

 

  • आइजी ने कहा-कांवड़ व ईद को लेकर पुख्ता रखें इंतजाम, उप्रबॉर्डर पर रखें सतर्कता

 

प्रदेश सरकार की ओर से कांवड़ यात्रा स्थगित करने की घोषणा के बाद भी यूपी और अन्य राज्यों से कांवडिय़ों के आने की संभावना बनी हुई है। इसे देखते हुए आइजी ने अधीनस्थों को इससे निपटने के लिए खास इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने ईद और आपदा को लेकर भी तैयारियां पुख्ता करने को कहा है। सतर्कता बरतने से ही पहाड़ को कोरोना की तीसरी लहर से बचाया जा सकता है। कोविड नियमों का पालन करने में लापरवाही नहीं करनी चाहिए।गुरुवार को आइजी अजय रौतेला ने वर्चुअली जिले के कप्तानों के साथ अपराध समीक्षा बैठक ली। इस दौरान उन्होंने तीन वर्ष से लंबित विवेचनाओं को निपटाने के लिए चलाए गए अभियान का विश्लेषण करने के साथ ही अभियान में तेजी लाने की बात कही।

 

  • मंत्री रेखा आर्य की नाराजगी पड़ी भारी, हटाए गए प्राचार्य

सोबन सिंह जीना राजकीय आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान अल्मोड़ा के प्राचार्य डा राम गोपाल नौटियाल को आखिरकार मंत्री की नाराजगी भारी पड़ी। सरकार ने उन्हें प्राचार्य पद से हटाकर हल्द्वानीमेडिकल कालेज में टीबी एंड चेस्ट विभाग के प्रोफेसर पद पर तैनात किया है।दरअसल बीते जून माह में बतौर अल्मोड़ा जिले की कोविड-19 प्रभारी मंत्री रेखा आर्य ने समीक्षा बैठक के दौरान अल्मोड़ा मेडिकल कालेज प्राचार्य पर प्रोटोकाल का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था।आरोप है कि प्रस्तुतीकरण के दौरान उन्होंने फोन काल रिसीव की, साथ में करीब तीन मिनट तक बात भी की। प्राचार्य की ओर से मंत्री के प्रोटोकाल की अनदेखी पर रेखा आर्य ने कड़ा रुख अपनाते हुए तत्कालीन मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को पत्र भी लिखा था।अबधामी सरकार में कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य की नाराजगी देखते हुए प्राचार्य डा राम गोपाल नौटियाल को पद से मुक्त कर दिया गया।

 

 

  • लालकुआं और हल्द्वानी में रेल भूमि  से हर हाल में हटाया जाएगा अतिक्रमण

मंडल रेल प्रबंधक आशुतोष पंत बृहस्पतिवार को इज्जतनगर से रामनगर तक किए जा रहे विंडोट्रेलिंग का निरीक्षण करने लालकुआं रेलवे स्टेशन पहुंचे। उन्होंने अधिकारियों को रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण में तेजी लाने के निर्देश दिए। पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हल्द्वानी और लालकुआं रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण में बाधा बन रहे अतिक्रमण को हर हाल में हटाया जाएगा।

 

 

  • सीबीएसई मानकों पर खरा उतरने वाले स्कूल बनेंगे अटल उत्कृष्ट विद्यालय : पांडेय

रामनगरब्लॉक में दो विद्यालयों अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का शुभारंभ बृहस्पतिवार को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने किया। उन्होंने कहा कि जो भी माध्यमिक स्कूल सीबीएसई मानकों को पूरा कर लेंगे, उनका दूसरे चरण में अटल उत्कृष्ट विद्यालय के लिए चयन किया जाएगा। इस मौके पर हरेला महोत्सव के तहत विद्यालय परिसर में पौधे भी रोपे गए।

 

 

  • इस महीने के अंत में घोषित होगा बोर्ड का परीक्षाफल

रामनगर (नैनीताल)। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा परिणाम जुलाई के अंत तक घोषित कर देगा। यदि परीक्षा परिणाम से कोई छात्र असंतुष्ट हुआ तो वह एक महीने के भीतर आवेदन कर परीक्षा दे सकता है।

 

 

  • एम्स में मनाया गया प्लास्टिक चिकित्सा दिवस

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में बृहस्पतिवार को प्लास्टिक चिकित्सा दिवस मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि देहरादून के प्रसिद्ध प्लास्टिक सर्जन डॉ. राकेश कालरा ने बताया कि भारत में सबसे पहले प्लास्टिक चिकित्सा पद्धति की शुरुआत महर्षि सुश्रुत ने की थी। उन्होंने संस्थान के एमबीबीएस के विद्यार्थियों को प्लास्टिक चिकित्सा की विभिन्न पद्धतियों की जानकारी दी।

 

 

  • पहाड़ों पर लगाई जाए छोटी-छोटी फूडप्रोसेसिंग यूनिट, नीति आयोग के उपाध्यक्ष पीएम मोदी को सौंपेंगे रिपोर्ट

भीमताल : नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्र में बड़े उद्योगों की बजाय छोटी फूडप्रोसेसिंग यूनिट लगानी होंगी। उद्यान, जड़ी-बूटी, हस्तशिल्प और ग्रामीण पर्यटन की यहां अपार संभावनाएं हैं। इसको और आगे बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार भरसक प्रयास कर रही है। फलोत्पादन से जहां उत्पादकों की आय बढ़ेगी वहीं टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा। सेब व चाय के बागान को देखने पर्यटक आते हैं। जिससे इस क्षेत्र में दोहरा लाभ होता है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here