स्वतंत्रा दिवस विशेष ‘आत्मनिर्भर भारत – स्वतंत्र भारत’

0
75

“”


 

भारत में हर वर्ष 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया जाता है। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी भारत 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस की 74 वां वर्षगांठ मना रहा है। कई वर्षों तक अंग्रेजी शासन की हुकूमत सहने के बाद, 15 अगस्त 1947 को हमारा देश अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ।

15 अगस्त 1947 को हमें जो आजादी मिली, वह इतनी आसानी से हासिल नहीं हुई। इस आजादी के लिए हमारे देश को बहुत लंबे समय तक संघर्ष करना पड़ा और हजारों वीर स्वतंत्रता सेनानियों को कुर्बानियां देनी पड़ी।महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, गोपाल कृष्ण गोखले, चंद्रशेखर आजाद, लोकमान्य बालगंगाधर तिलक, सरदार वल्लभभाई पटेल, सुखदेव, लाला लाजपत राय जैसे हजारों स्वतंत्रता सेनानियों  ने त्याग और बलिदान दिया। तब कहीं आजाद भारत का सपना साकार हुआ।

15 अगस्त 1947 को स्वतंत्र भारत में, देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने लाल किले पर तिरंगा फहराया और देश को संबोधित किया था। यह परंपरा तब से आज भी जारी हैं। पूरे देश में यह दिन बहुत हर्षोल्लास और जोश के साथ मनाया जाता है। देशवासी तिरंगा फहराने के साथ-साथ देशभक्ति के गीत गाते है, और मिठाइयां बांटते हैं।

इस दिन हर देशवासी अमर स्वतंत्रता सेनानियों को याद करता है और नमन करता है। जिनके संघर्ष, त्याग और बलिदान से हमें आजादी नसीब हुई। हमें स्वतंत्र भारत में सांस लेने को मिली।

दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार जारी है, जिसकी वजह से इस बार इस दिवस को हर वर्ष के भांति ज्यादा बड़े स्तर पर या धूमधाम से नहीं मनाया जा रहा है।

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इस बार स्वतंत्रता दिवस 2020 की थीम आत्मनिर्भर भारतस्वतंत्र भारत रखी है।

उत्तरापीडिया परिवार स्वतंत्रता सेनानियों को शतशत नमन करता है। उनके संघर्ष, त्याग और बलिदान को अपने जीवन में अपनाने का संकल्प करती है।

आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

जय हिंद   जय भारत!

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here