Atul A

16 POSTS
आंखे देखती तो बहुत हैं, दिल को कम ही महसूस होता है। लिखना तो चाहती है कलम, पर लिख दूँ तो गम होता है।। विचार जब बाहर आना चाहते हैं, दिमाग जब शांत होना चाहता है, तो शब्दों का रूप ले कर... कागज में उतार हो लेते है।

Exclusive articles:

आहा से ओह तक

डायरी के पन्नो से मित्र के साथ स्कूल से तीसरे period के बाद भाग के घर को चले आना, बरसातों के मौसम में, अलग अलग...

पहले प्यार से लेकर आखिरी प्यार के भी बाद की कहानी

ये किस्सा है - सच्चा थोड़ा सा, अच्छा थोड़ा सा, जिंदगी के कई किस्सो की कहानी है। पहला प्यार उसे तब हो गया था जब...

कूड़ा फेकें खाली प्लॉट में…

आज अधिकतर लोग स्वच्छता को अपना चुके है अपने आस पास सफाई रखना पसंद करते है और दुसरो को प्रेरित करते हैं - लेकिन...

महंगा दूध

घर के समीप की डेयरी में दूध, कुछ दूरी पर स्थित एक ग्रामीण क्षेत्र से आता था। दूध प्रतिदिन दो बार, एक बार सुबह,...

नींद अब आती नहीं (कविता)

दिल बहल जाता था तब, कागज के खिलौने से भी, मखमली बिस्तर में भी नींद अब आती नहीं। ख़्वाहिश पूरी हो जाती थी कभी, बारिश के...

Breaking

देहरादून ख़ुशनुमा मौसम लिए खूबसूरत शहर

देहरादून जो विगत वर्षों में भारत की चुनिंदा स्मार्ट...

आदि बद्री मंदिर समूह Adi Badri Group of Temples

Uttarakhand: उत्तराखंड का इतिहास बहुत पुराना है, जिसके बारे...
spot_imgspot_img
error: