इन दिनों कोरोना ले सकता है विकराल रूप

0
11

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस लोगों की जान का खतरा बना हुआ है, भारत में भी इसका कहर झेलना पड़ रहा है हालाँकि कुछ समय से कुछ राहत देखने को मिली है पिछले कुछ दिनों से भारत में कोरोना के नए मामले कम सामने आ रहे हैं, इसी बीच दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान सस्थान डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कोरोना वायरस के बढ़ने को लेकर चिंता जताई है उनका कहना है की यदि प्रदुषण फिर बढ़ता है तो कोरोना वाइरस के बढ़ने का खतरा भी बढ़ेगा ।
इस दिनों कोरोना ले सकता है विकराल रूप
कोरोना सर्दी और प्रदूषण में घातक हो जाएगा कोरोना उनके कहे अनुसार यदि वायु प्रदुषण बढ़ता है तो इसका सीधा असर कोविड-19 के संक्रमण के मामलो की बढ़ोतरी पर पड़ेगा, ऐसा उन्होंने दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदुषण के बढ़ते स्तर और वहाँ के कोरोना के मामलो के अध्ययन के बाद कहा है । एम्स के डारेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने सलहा दी है, की वायु प्रदुषण और कोरोना संक्रमण से सचेत रहें उन्होंने साफ़ कर दिया है की जैसे जैसे वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी होगी उतनी ही तीव्रता से कोरोना वायरस के संक्रमण में भी बढ़ोतरी होगी।

डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है की कई शोधों के बाद इसका पता चला है की यदि वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी होती है तो कोरोना वाइरस हवा में ज्यादा देर तक जीवित रह सकता है और इसके बाद लोगो के स्वांस लेने पर उनके शरीर में भी प्रवेश कर सकता है। एम्‍स निदेशक ने कहा की देश अब अनलॉक हो रहा है, जिससे प्रदुषण बढ़ने लगा है आने वाले समय वायरस और प्रदुषण एक साथ फैलेंगे तो बड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। जिससे मरीज़ों की संख्या बड़ेगी, कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में 7.8 से 8.9 फीसदी तक की बढ़ोतरी देखने को मिली है!

Leave a Reply