कुमाऊं विश्वविद्यालय के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं में भी छाने लगा कोरोना वायरस का ग्रहण।

0
22

कुमाऊं विश्वविद्यालय, नैनीताल से संबंधित कॉलेजों में अंतिम वर्ष/सेमेस्टर की परीक्षाएं सोमवार से शुरू हो गई है। परीक्षा शुरू होने के पहले दिन ही कोरोना संक्रमण ने अपने पैर वहां भी जमा लिया है।

 

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बागेश्वर में जब सोमवार से अंतिम वर्ष/ सेमेस्टर की परीक्षाएं शुरू हुई, तो परीक्षार्थियों के थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान 16 छात्रों का तापमान मानक से अधिक पाया गया। उसके बाद अधिक तापमान पाए गये, छात्रों को अलग कक्ष में परीक्षा दिलाई गई।

 

थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान एक छात्र का तापमान 99.3 डिग्री सेल्सियस पाया गया। जिसकी जानकारी तुरंत जिला चिकित्सालय को दी गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महाविद्यालय पहुंच सभी 16 छात्रों का तापमान नपाते हुए, रैपिड टेस्ट किए। जांच में पता चला कि उनमें से एक छात्र कोरोना पॉजिटिव है। इन सभी छात्रों को अलग कक्ष में परीक्षा दिलाई गई।

 

 

महाविद्यालय के परीक्षा प्रभारी डॉ रंजना शाह ने बताया कि महाविद्यालय द्वारा की यूजीसी और केंद्र सरकार की गाइडलाइनों का पूर्ण रुप से पालन करा जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि अगर कोई छात्र अभी परीक्षा नहीं दे पा रहे हैं, तो वह बाद में कुविवि द्वारा पुनः आयोजित होने वाली परीक्षाओं में सम्मिलित हो सकते हैं। यह भी जानकारी मिली है कि भविष्य में अधिक तापमान आने पर, परीक्षार्थी को परीक्षा देने से रोका जा सकता है।

 

रैपिड टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए, छात्र को आइसोलेट कर दिया गया है। कॉलेज के सैनिटाइज करने के निर्देश भी दे दिए गए है।

 

परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले छात्रछात्राओं से उत्तरापीडिया टीम आग्रह करती है, कि कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए नियमों का पालन करते हुए परीक्षाएं दे।

 

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें।


उत्तरापीडिया के अपडेट पाने के लिए फ़ेसबुक पेज से जुड़ें।

Leave a Reply