अब बिना कोविड की रिपोर्ट के भी उत्तराखंड घूम सकते है पर्यटक

0
50
covid travel uttarakhand

सरकार ने अन्य राज्यों से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों के लिए कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट एवं दो दिन होटल व होम स्टे में रुकने की अनिवार्यता का प्रतिबंध हटा दिया है। अब पर्यटक कोविड जांच रिपोर्ट के बिना उत्तराखंड घूमने आ सकते हैं, ध्यान रहें – उन्हें स्मार्ट सिटी देहरादून वेबसाइट पर पंजीकरण करना अनिवार्य हैं।

नई व्यवस्था 23 सितंबर से लागू हो रही है। सरकार के फैसले से पर्यटन उद्योग से जुड़े कारोबारियों में नई उम्मीद जगी है। मुख्य सचिव ओम प्रकाश की ओर से पर्यटकों के लिए कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट और होटल व होम स्टे में दो दिन ठहरने की बुकिंग का प्रतिबंध हटाने के आदेश जारी किए हैं।

अब तक कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पूर्व में जारी आदेश में बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों के लिए आईसीएमआर की मान्यता प्राप्त लैब से आरटी-पीसीआर कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट, एंटीजन टेस्ट कराने पर ही प्रदेश में प्रवेश की अनुमति की व्यवस्था थी।

होटल, होम स्टे, गेस्ट हाउस व रेस्टोरेंट संचालकों को पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजेशन व अन्य प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। यदि कोई पर्यटक कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो तुरंत जिला प्रशासन को सूचित करना होगा। ये आदेश प्रदेश में 23 सितंबर से लागू हो जाएंगे।

उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी का मानना है कि पर्यटकों के लिए कोविड नेगेटिव रिपोर्ट, ठहरने की अनिवार्यता को हटाकर सराहनीय फैसला लिया है। प्रदेश में वर्तमान में पांच से 10 प्रतिशत पर्यटन कारोबार शुरू हो पाया है।

राजस्थानहिमाचल में ये प्रतिबंध पहले ही हटा दिए थे। जिससे इन राज्यों में 30 से 40 प्रतिशत से पर्यटन कारोबार बढ़ा है। उम्मीद है कि अब उत्तराखंड में 30 से 40 प्रतिशत पर्यटन कारोबार पटरी पर लौटेगा।

बाजार और पयर्टन जरुरी है – लेकिन कोरोना का प्रसार रोकना भी जरुरी है। समय के साथ कोरोना का भय, उसके प्रति सतर्कता एवं मामलों में प्रशासनिक नियंत्रण कम होता जा रहा है – जबकि कोरोना की स्थिति लगातार बिगड़ रही है। सुरक्षा के लिए लोग सिर्फ सरकारी गाइड लाइन या निर्देशों पर निर्भर न रहें,  न ही दूसरों को देखकर स्वयं भी लापरवाही बरते। हर व्यक्ति स्वंय को सुरक्षित रखने के यथा संभव प्रयास करे तो ही कोरोना को रोका जा सकता है। अभी हम सब ये नहीं कर पाए तो आने वाले समय में स्थिति की भयावहता की अभी कल्पना भी नहीं की जा सकती है।

उत्तराखंड सरकार के हेल्थ बुलेटिन विस्तार से पढ़ने के लिए क्लिक करें।

उत्तराखंड virtually घूमने के लिए आप YouTube चैनल भी देख सकते है : PopcornTrip


उत्तरापीडिया के अपडेट पाने के लिए फ़ेसबुक पेज से जुड़ें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here