IIT बॉम्बे का अनोखा दीक्षांत समारोह

0
95

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे ने रविवार को कोविड-19 महामारी के मद्देनजर एक आभासी वर्चुअल मोड में अपना 58वां वार्षिक दीक्षांत समारोह आयोजित किया। इस समारोह में सभी अतिथियों व छात्रों के अवतार बनाकर पूरा कार्यक्रम पिछले वर्षो की तरह सम्पन कराया गया यह दुनिया का ऐसा पहला दीक्षांत समारोह था।आईआईटी-बॉम्बे की तरफ से एक बयान में कहा गया, ‘जारी महामारी के दौरान सुरक्षा उपायों को ध्यान में रखते हुए, संस्थान ने अपने स्नातक छात्रों के लिए वर्चुअल मोड में दीक्षांत समारोह आयोजित किया।’

संस्थान ने कहा कि वह छात्रों को प्रमुख इंजीनियरिंग संस्थान से पास होने की उपलब्धि और गर्व की भावना से वंचित नहीं करना चाहता था और इसीलिए इस तरीके से इसका आयोजन किया।

अपने तरीके के इस अनोखे समारोह की सोशल मीडिया पर भी काफी चर्चा हुई। कोरोना काल में अपने आविष्कारों को लेकर चर्चा में रहनी वाली आईआईटी ने इस बार भी खूब सुर्खियां बटोरीं।
देश और आईआईटी के 62 साल के इतिहास में पहली बार है, जब दीक्षांत समाराेह इस तरह हुआ। आईआईटी का दावा है कि दुनियाभर में कई दीक्षांत समाराेह ऑनलाइन हुए, लेकिन इस तरह काेई नहीं हुआ। सभी छात्र एक माेबाइल ऐप के जरिए समाराेह से जुड़े थे।

दीक्षांत समारोह में शामिल मुख्य अतिथी  ब्लैक स्टोन कंपनी के CEO Stephen Allen Schwarzman व नोबेल पुरुस्कार विजेता डंकन हाल्डेन का कहना था की दुनिया को इससे सीख लेकर इसी तरह से अन्य आयोजन भी करने चाहिए।


उत्तरापीडिया के अपडेट पाने के लिए फ़ेसबुक पेज से जुड़ें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here