आजतक इन महानुभावों को मिल चुका हैं, “भारत रत्न”

0
105
sachin tendulkar receives bharat ratna

भारत का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पुरस्कार भारत रत्न है। यह सम्मान राष्ट्रीय सेवा के लिए दिया जाता है। भारत रत्न अपने क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले लोगों,  जो बिना किसी धर्म जाति लिंग को देखे हुए कोई सराहनीय कार्य करते हैं, उन्हे दिया जाता है। इन सेवाओं में कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल शामिल है।

भारत रत्न 1 साल में अधिकतम तीन लोगों को दिया जाता है। इस सम्मान की स्थापना 2 जनवरी 1954 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद द्वारा की गई थी। पहला भारत रत्न डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन को दिया गया था। देश के राष्ट्रपति को प्रधानमंत्री द्वारा भारत रत्ना खिताब के लिए लोगों के नाम प्रस्तावित किए जाते हैं जिसके बाद राष्ट्रपति भवन में एक समारोह आयोजित करके भारत रत्न विजेताओं को भारत रत्न दिए जाते हैं।

भारत टर्न आज तक 48 लोगों को दिया जा चुका है। इस पोस्ट में हम उन्हीं महानुभाओं के बारे में जानेगे जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में देश के विकास और देश की भलाई के लिए कोई सराहनीय कार्य किया है, और इस सर्वोतम सम्मान को पाया है।

  • डॉ. सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन : 1954 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित. डॉ. राधाकृष्‍णन भारत के दूसरे राष्‍ट्रपति थे।
  • चक्रवर्ती राजगोपालाचारी : 1954 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित राजगोपालाचारी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और अंतिम गवर्नर जनरल थे।
  • डॉ. चन्द्रशेखर वेंकट रमन : 1954 में वेंकट रमन को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया था। वह नोबेल पुरस्कार विजेता और भौतिकशास्त्री थे।
  • डॉ. भगवान दास : 1955 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किए गए भगवान दास स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और लेखक थे।
  • सर डॉ. मौक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या : 1955 में विश्वेश्वरय्या को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। वह सिविल इंजीनियर और मैसूर के दीवान थे।
  • पं. जवाहरलाल नेहरू : 1955 में  देश के प्रथम प्रधानमंत्री, लेखक और स्वतंत्रता सेनानी को भारत रत्न से सम्‍मानित किया गया।
  • गोविंद वल्लभ पंत: 1957 में गोविंद वल्लभ पंत को भारत रत्न दिया गया।  वह स्वतंत्रता सेनानी, उप्र के पहले मुख्यमंत्री और देश के दूसरे गृहमंत्री थे।
  • डॉ. धोंडो केशव कर्वे : 1957 में भारत रत्न से सम्मानित हुए केशव कर्वे शिक्षक और समाज सुधारक थे।
  • डॉ. बिधान चन्द्र राय : 1958 में भारत रत्न से  सम्मानित किया गया। वह चिकित्सक और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री थे।
  • पुरुषोत्तम दास टंडन : 1961 में  भारत रत्न से  सम्मानित किए गए पुरुषोत्तम दास टंडन स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और शिक्षक थे।
  • डॉ. राजेन्द्र प्रसाद : 1961 में भारत रत्न से  सम्मानित किए गए. वह देश के प्रथम राष्ट्रपति, स्वतंत्रता सेनानी और विधिवेत्ता थे।
  • डॉ. जाकिर हुसैन : 1963 में जाकिर हुसैन को भारत रत्न से सम्मानित किया गया। वह देश के तृतीय राष्ट्रपति थे।
  • डॉ. पांडुरंग वामन काणे : 1963 में भारतविद और संस्कृत के विद्वान पांडुरंग वामन काणे को भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
  • लाल बहादुर शास्त्री : 1966 में देश के तीसरे प्रधानमंत्री और स्वतंत्रता सेनानी को भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
  • इंदिरा गांधी : 1971 में देश की चौथी प्रधानमंत्री को भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
  • वराहगिरी वेंकट गिरी : 1975 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित वराहगिरी वेंकट गिरी देश के चौथे राष्ट्रपति और श्रमिक संघवादी थे।
  • के. कामराज : 1976 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित वह स्वतंत्रता सेनानी और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री थे।
  • मदर टेरेसा : 1980 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।  मदर टेरेसा नोबेल पुरस्कार विजेता, कैथोलिक नन और मिशनरीज़ संस्थापक थीं।
  • आचार्य विनोबा भावे : 1983 में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और समाज सुधारक विनोबा भावे को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • खान अब्दुल गफ्फार खान : 1987 में गफ्फार खान को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। वह स्वतंत्रता सेनानी थे।
  • मरुदुर गोपाला रामचन्दम : 1988 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।  गोपाला रामचन्दम अभिनेता और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री थे।
  • डॉ. भीमराव अम्बेडकर : 1990 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित भीमराव अम्बेडकर भारतीय संविधान के वास्तुकार, राज‍नीतिज्ञ और अर्थशास्त्री थे।
  • नेल्सन मंडेला : 1990 में मंडेला को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। वह नोबेल पुरस्कार विजेता और रंगभेद विरोधी आंदोलन के नेता थे।
  • राजीव गांधी : 1991 में देश के सातवें प्रधानमंत्री राजीव गांधी को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • सरदार वल्लभ भाई पटेल : 1991 में देश के पहले गृहमंत्री और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • मोरारजी भाई देसाई :  1991 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। वह देश के पांचवें प्रधानमंत्री और स्वतंत्रता सेनानी थे।
  • मौलाना अबुल कलाम आजाद : 1992 में देश के प्रथम शिक्षा मंत्री और स्वतंत्रता सेनानी को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • जहांगीर रतनजी दादाभाई टाटा :  1992 में देश के जाने माने उद्योगपति को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • सत्यजीत रे : 1992 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया, वह फिल्म निर्माता और निर्देशक थे।
  • एपीजे अब्दुल कलाम : 1997 में देश के 11वें राष्ट्रपति और वैज्ञानिक को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • गुलजारीलाल नंदा : 1997 में   भारत रत्‍न से सम्‍मानितगुलजारीलाल नंदा स्वतंत्रता सेनानी थे और दो बार कार्यवाहक प्रधानमंत्री रहे थे।
  • अरुणा आसिफ अली : 1997 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित वह स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे।
  • एमएस सुब्बालक्ष्मी : 1998 में शास्त्रीय संगीत गायिका को भारत रत्न से सम्‍मानित किया गया।
  • सी. सुब्रमण्यम : 1998 में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और कृषि मंत्री को भारत रत्न से सम्‍मानित किया गया।
  • जयप्रकाश नारायण : 1998 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। जेपी स्वतंत्रता सेनानी और राजनीतिज्ञ थे।
  • पंडित रविशंकर : 1999 में सितार वादक रविशंकर को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • अमर्त्य सेन : 1999 में नोबेल पुरस्कार विजेता और अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • गोपीनाथ बोरदोलोई : 1999 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।  वह स्वतंत्रता सेनानी और असम के मुख्यमंत्री थे।
  • लता मंगेशकर : 2001 में गायिका लता मंगेशकर को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • स्ताद बिस्मिल्ला खां : 2001 में शहनाई वादक बिस्मिल्ला खां को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • पंडित भीमसेन जोशी : 2008 में शास्त्रीय गायक भीमसेन जोशी  को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • सचिन तेंडुलकर : 2014 में भारतीय क्रिकेटर सचिन को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • सीएनआर राव : 2014 में जाने-माने वैज्ञानिक व केमेस्ट्री के विशेषज्ञ सीएनआर राव को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया।
  • पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : 2014 में भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया गया। अटल बिहारी वाजपेयी जाने-माने राजनेता, 10वें प्रधानमंत्री, कवि और पत्रकार थे।
  • पं. मदनमोहन मालवीय : 2014 में शिक्षाविद और समाज सुधारक मदनमोहन मालवीय को भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया।
  • प्रणब मुखर्जी : पूर्व राष्ट्रपति और राजनेता प्रणव मुखर्जी को 2019 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
  • नानाजी देशमुख : भारतीय समाजसेवी और जनसंघ नेता नानाजी को 2019 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
  • भूपेन हजारिका : गायकभूपेन को 2019 में भारतरत्न से सम्मानित गया।

पिछले 3 सालों से भारत रत्न किसी को नहीं मिला, लेकिन जल्द ही भारत सरकार भारत के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न प्राप्तकर्ता रहे नए विजेताओं के नाम जारी करेगी।

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here