बैजनाथ की यात्रा

2
161
बैजनाथ की यात्रा

बैजनाथ भारत के उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में बागेश्वर जिले में गोमती नदी के किनारे एक छोटा सा शहर है। यह स्थान अपने प्राचीन मंदिरों के लिए सबसे अधिक जाना जाता है, जिन्हें भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा उत्तराखंड में राष्ट्रीय महत्व के स्मारक के रूप में मान्यता दी गई है।

बैजनाथ मन्दिर लगभग 1000 साल पुराना है इस मंदिर के बारे में कहते है कि यह मन्दिर सिर्फ एक रात में बनाया गया था । बैजनाथ उत्तराखंड का काफी महत्वपूर्ण एवम् ऐतिहासिक स्थल है।

यँहा का मौसम आमतौर पर सर्द ही रहता है करीब करीब २६°स के आसपास ही रहता है , यंहा के प्रवासी बहुत ही मिलनसार है।

यहां पत्थर के बने हुए कई मन्दिर हैं , जिनमें मुख्य मन्दिर भगवान शिव का है। यंहा आने वालो के लिए आकर्षण का केंद्र यंहा के १२ वी शताब्दी के पत्थरों से निर्मित मंदिर रहते है! बैजनाथ मंदिर “कत्यूर राजा” द्वारा बागेश्वर जिले में करीब 1150 इसवी में गोमती नदी के किनारे पर बनाया गया था । यह मंदिर 1126 मीटर की ऊंचाई पर गोमती नदी के बाएं किनारे पर स्थित है | यह मंदिर विशाल पाषण शिलाओं से बनाया गया है। बैजनाथ को पहले “कार्तिकेयपुर” के नाम से जाना जाता था।

यदि आपको कभी बागेश्वर जिले में आने का अवसर प्राप्त हो तो आप बैजनाथ मंदिर और जगनाथ मंदिर जरूर आये और तीनों लोको में महान भगवान महादेव के दर्शन जरूर करे ..

बैजनाथ मंदिर से जुड़ी सारी जानकारी देता रोचक विडियो देखें  ?

[ad id=’11174′]

2 COMMENTS

Comments are closed.