भारत बनाएगा खुद का ऐप स्टोर

0
11

देश के ऐप ईकोसिस्टम पर गूगल प्ले और ऐपल ऐप स्टोर्स  का एकाधिकार खत्म करने के लिए जल्द ही भारत खुद का ऐप स्टोर लॉन्च कर सकता है। दरअसल भारत के ऐप डिवेलपर्स और उद्यमियों ने इंडियन ऐप स्टोर्स तैयार करने की मांग की है। दो वरिष्ठ अधिकारियों ने ईटी को बताया कि केंद्र सरकार इस मांग पर विचार करेगी। बता दें कि हाल ही में गूगल ने ऐसे ऐप्स के लिए 30 प्रतिशत शुल्क की घोषणा की है, जो प्ले स्टोर पर मौजूद हैं लेकिन गूगल के बिलिंग सिस्टम का इस्तेमाल नहीं कर रहे।

भारत का एक ऐप स्टोर पहले से मौजूद है जो फिलहाल सिर्फ सरकारी ऐप्स के लिए है। इसपर उमंग, आरोग्य सेतु और डिजिलॉकर जैसे ऐप्स मौजूद हैं। एक अधिकारी ने बताया कि शुरुआत करने के लिए इसे बड़ा किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक, फोन में गूगल प्ले स्टोर के साथ वैकल्पिक ऐप स्टोर भी प्री लोड मिले इसके लिए जरूरी है कि स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों के लिए एक पॉलिसी पेश की जाए।

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर पर एक पोस्ट में कहा कि वह भारतीय ऐप डिवेलपर्स से मिले सुझाव से खुश हैं। उन्होंने कहा कि अत्मनिर्भर भारत ऐप ईकोसिस्टम तैयार करने के लिए इंडियन ऐप डिवेलपर्स को प्रोत्साहित करना जरूरी है।

गूगल प्ले ने हटाए थे ऐप
बता दें कि गूगल प्ले स्टोर ने पेटीएम समेत कुछ ऐप्स को अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया था। गूगल ने पेटीएम पर गैंबलिंग के आरोप लगाए थे, जिसका पेटीएम ने कड़ा विरोध किया। हालांकि 24 घंटे के भीतर ही ऐप वापस गूगल प्ले पर आ गया था। पिछले कुछ दिनों में इस तरह की कुछ घटनाओं के बाद भारतीय ऐप स्टोर की मांग बढ़ गई।


उत्तरापीडिया के अपडेट पाने के लिए फ़ेसबुक पेज से जुड़ें।

Leave a Reply