इंटरनेट क्या है और इससे जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल।

0
163
Internet

What is the Internet?

इंटरनेट एक विशाल नेटवर्क है जो पूरी दुनिया के कंप्यूटरों को आपस में जोड़ता है। इंटरनेट के माध्यम से, लोग इंटरनेट कनेक्शन के साथ कहीं से भी जानकारी शेयर कर सकते हैं और आपस में वर्चुअली जुड़ सकते हैं।

इंटरनेट, एक सिस्टम आर्किटेक्चर जिसने दुनिया भर के विभिन्न कंप्यूटर नेटवर्क को आपस में जोड़ने के लिये सिस्टम देकर संचार और वाणिज्य के तरीकों में क्रांति ला दी है। कभी-कभी “नेटवर्क के नेटवर्क” के रूप में संदर्भित, इंटरनेट 1970 के दशक में संयुक्त राज्य अमेरिका में उभरा लेकिन 1990 के दशक की शुरुआत तक आम जनता के लिए उपलब्ध नहीं हुआ था। और अगले अब तक 32 वर्षों में यानि 2022 तक इस पोस्ट तो लिखने तक दुनिया की लगभग 60% आबादी इंटरनेट उपयोग करती है। जिसमे अमेरिका में लगभग 91%, पूरी दुनिया में 60% प्रतिशत और भारत में लगभग 43% आबादी इंटरनेट का उपयोग करती है। 

इंटरनेट इतनी शक्तिशाली और सामान्य क्षमता प्रदान करता है कि इसका उपयोग लगभग किसी भी उद्देश्य के लिए किया जा सकता है जो सूचना पर निर्भर करता है, और यह प्रत्येक व्यक्ति द्वारा सुलभ है जो इसके किसी एक घटक नेटवर्क से जुड़ता है। यह सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मेल (ई-मेल), “चैट रूम,” समाचार समूह, और ऑडियो और वीडियो प्रसारण के माध्यम से मानव संचार का समर्थन करता है और लोगों को कई अलग-अलग स्थानों पर बैठे एक दूसरे के सहयोगी के रूप से काम करने के लिए टूल्स देता है। यह वर्ल्ड वाइड वेब सहित कई अनुप्रयोगों द्वारा डिजिटल जानकारी तक पहुंच का समर्थन करता है। इंटरनेट “ई-कॉमर्स”  की एक बड़ी और बढ़ती संख्या के लिए एक स्पॉनिंग ग्राउंड साबित हुआ है, जो इंटरनेट पर अपनी अधिकांश बिक्री और सेवाएं करता है।

Who invented the Internet?

इंटरनेट का कोई एक मालिक नहीं है। धीरे – धीरे दो डिवाइस को जोड़कर बना नेटवर्क विस्तार लेते हुए कई नेटवर्क की श्रृंखला के रूप में विस्तार लेता जा रहा है। है जो दुनिया भर के विभिन्न उपकरणों के बीच में संचार करता है। इंटरनेट सेवा प्रदाताओं द्वारा उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट तक पहुंच प्रदान की जाती है। जिसे अलग अलग लेवल पर कई सेवा प्रदाता कार्य करते है। 21वीं सदी में मोबाइल ब्रॉडबैंड और वाई-फाई के व्यापक उपयोग ने इस इंटरनेट कनेक्शन को वायरलेस बना दिया है।

Is the Internet dangerous?

इंटरनेट के आगमन ने शोषण के नए रूपों को अस्तित्व में लाया है, जैसे स्पैम ई-मेल और मैलवेयर, और हानिकारक सोशल व्यवहार, जैसे साइबरबुलिंग और डॉक्सिंग। कई कंपनियां इंटरनेट उपयोगकर्ताओं का व्यापक डेटा एकत्र करती हैं, जिसे गोपनीयता का उल्लंघन माना जाता है। इंटरनेट के ख़तरे भी है। इसलिए अत्यंत निजी और व्यक्तिगत डेटा को कभी भी इंटरनेट पर डालने की सलाह नहीं दी जाती है।

What is Dark Web?

डार्क वेब उन वेब साइटों की उस श्रृंखला को संदर्भित करता है – जिन तक पहुँचने के लिए विशिष्ट डीक्रिप्शन एवं कॉन्फ़िगरेशन टूल की आवश्यकता होती है। सामान्य ब्राउज़र पर उन वेबसाइट को सीधे एक्सेस नहीं किया जा सकता।  यह आमतौर पर उन उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाता है जो लोग छुपा कर कर सकते है। डार्क वेब को इंटरनेट का अंडर वर्ल्ड कह सकते है। इंटनरेट पर होने वाले ग़ैरक़ानूनी कार्य जिसमें अवैध बिक्री (जैसे, हथियारों और ड्रग्स की), भारी सेंसरशिप वाले देशों में राजनीतिक असंतोष और व्हिसलब्लोइंग शामिल हैं।

Who controls the Internet?

इंटरनेट सैद्धांतिक रूप से तो विकेंद्रीकृत है यानि किसी एक इकाई द्वारा नियंत्रित नहीं है, लेकिन देखा जाये तो तकनीक के बड़े खिलाड़ी जैसे गूगल, अमेज़ॅन, फेसबुक जैसी टेक कंपनियां इसे प्रभावित करती है। उनका इंटरनेट पर प्रसारित सूचना और इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त आय के कारण अभूतपूर्व प्रभाव है। कुछ देशों में, सेंसरशिप के माध्यम से इंटरनेट के कुछ हिस्सों को ब्लॉक कर दिया गया है।

Is the Internet “making us stupid”?

क्या इंटरनेट “हमें बेवकूफ बना रहा है” यह एक जटिल और व्यापक चर्चा और अनुसंधान का विषय है। कुछ लोगों का तर्क है कि इंटरनेट हमारे दिमाग को खराब करने के लिए रिप्रोग्रामिंग कर रहा है, जैसा कि घटते हुए आईक्यू स्कोर से देखा जा सकता है, और यह कि इंटरनेट जैसी नई तकनीकें और प्लेटफॉर्म ध्यान स्पैम, ध्यान केंद्रित करने की क्षमता और सरल कार्य करने की क्षमता को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

अन्य लोगों का तर्क है कि पूरे इतिहास में लगभग सभी नई तकनीकों को शुरू में डर लगता रहा है, कि इंटरनेट लोगों को आवाज उठाने का माध्यम देता है और सामाजिक उन्नति के लाभ के लिए सूचना तक समान पहुंच प्रदान करता है, और इसका कार्य मस्तिष्क कैसे काम करता है और हम कैसे जानकारी का उपयोग और प्रक्रिया करते हैं, यह बदलना नहीं है।

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here